जब आप उन चीजों को न कहना सीख जाते हैं जो आपको भावनात्मक रूप से खाली कर रही हैं तभी उन चीजों की जगह बनती है ,जो आपके लिए वास्तव में महत्वपूर्ण हैं
Share To:

atoot bandhan

Post A Comment:

0 comments so far,add yours