अपने रिश्तों के बंधन को अटूट बनाने के लिए पढ़िए 15 अनमोल विचार


अटूट रिश्तों पर 15 अनमोल विचार

हम सब चाहते हैं की हमारे रिश्ते अटूट बंधन में बंधे रहे | इसके लिए प्रयास भी करते हैं |कभी सफल होते हैं कभी असफल | कुछ बाते हैं जो आपके रिश्तों को अटूट बंधन में बांधती हैं | आइये जाने ऐसी ही बातें ...


जानिये अटूट रिश्तों पर 15 अनमोल विचार 



1) किसी के साथ होना उसके प्रति स्पष्ट होना , ईमानदार होना , भावना से भरे होना , उसको सुनने , जान्ने समझने को तैयार होना , उसको जैसा है वैसा स्वीकार करना , साथ देना और जरूरत पड़ने पर क्षमा कर देना ..... यही अटूट रिश्तों की सम्पूर्ण परिभाषा है |

2.एक अच्छा रिश्ता वो है जब कोई आपका अतीत स्वीकार करे आपके वर्तमान की सहायता करे व् आपके भविष्य को बेहतर बनाने के लिए प्रोत्साहित करे |

३.एक अच्छे रिश्ते में दो बाते जरूरी है | पहली उन बातों की तारीफ करना जो आप दोनों में सामान हैं | दूसरा उन बातों का सम्मान करना जो आपमें भिन्न हैं |


4.क्षमा मांगने का अर्थ हमेशा ये नहीं होता है की आप गलत हैं और अगला सही है | कई बार इसका मतलब ये होता है की आप अपने रिश्ते को अपने अहंकार से ज्यादा अहमियत देते हैं |

5.अच्छा रिश्ता वहां है जब व्यक्ति आपकी सारी असुक्षाएं और सारी कमजोरियां समझता हो , फिर भी आप से प्यार करता हो |

6)आपकी उपस्थिति और अनुपस्थिति दोनों जिसके लिए महत्वपूर्ण हों वही आपका सच्चा रिश्ता है |

7)किसी गलत व्यक्ति के पीछे मत दौड़ों | एक अच्छा रिश्ता कभी दूर भागता नहीं है |

8)अच्छे रिश्ते अचानक से नहीं हो जाते हैं वो समय लेते हैं |

9)एक खूबसूरत रिश्ता एस बात पर निर्भर नहीं करता कि हम कितना एक दूसरे को समझते हैं बल्कि इस बात पर निर्भर करता है की हम अपने विरोध कितनी ख़ूबसूरती से निपटा लेते हैं |

10)किसी रिश्ते के ख्त्म्होने का अर्थ ये नहीं ई की दो लोगों ने एक दूसरे को प्यार करना बंद कर दिया है बल्कि दो लोगों ने एक दूसरे को चोट पहुँचाना बंद  कर दिया है |

11)प्रेम वो भाषाही जिसे हर कोई बोलता है | पर जब दो लोग इस भाषा को समझने लगते हैं वही अटूट बंधन बन जाता है |

12)विवाह का लक्ष्य एक जैसा सोंचना नहीं बल्कि एक साथ सोंचना है |

13)एक अच्छा रिश्ता वो है जो आपको बिना किसी दूसरे में बदले खुद में ही  बेहतर  व्यक्ति बना देता है |

14)एक अच्छा रिश्ता ये नहीं है कि आप एक दूसरे से लड़ते , झगड़ते या बुरा - भला नहीं कहते हैं बल्कि एक अच्छा रिश्ता वो है जब आप इन झगड़ों के बाद जल्द से जल्द सामान्य व् पूर्ववत हो जाते हैं |

15)अगर किसी रिश्ते में झगडा खत्म हो जाए तो समझ लेना चाहिए कि वो रिश्ता खत्म होने की कगार पर है |


टीम ABC

यह भी पढ़ें ..........





आपको आपको  लेख "अटूट रिश्तों पर 15 अनमोल विचार  " कैसा लगा  | अपनी राय अवश्य व्यक्त करें | हमारा फेसबुक पेज लाइक करें | अगर आपको "अटूट बंधन " की रचनाएँ पसंद आती हैं तो कृपया हमारा  फ्री इ मेल लैटर सबस्क्राइब कराये ताकि हम "अटूट बंधन"की लेटेस्ट  पोस्ट सीधे आपके इ मेल पर भेज सकें |    
Share To:

atoot bandhan

Post A Comment:

0 comments so far,add yours