Home 2015 October

Monthly Archives: October 2015

करवाचौथ का उपवास

करवाचौथ ... क्या ये उपवास लोटा सकता है ? उस विधवा के मांग का सिंदूर जो कुछ दिन पहले सीमा के पास रह रहे उस नवेली दुल्हन की सितारो वाली चुंदङी उङा...

अटल रहे सुहाग : करवा चौथ : कविता -इंजी .आशा शर्मा

गठबंधन की पावन गाँठों से यूँ खुद को बाँध लिया मन वचनों से और कर्म से तन को मन साध लिया याचक बन कर मात-पिता से सुता दान में...

अटल रहे सुहाग : (करवाचौथ स्पेशल ) – रोचिका शर्मा की कवितायें

"एक झलक चंदा की " ए, बदली तुम न बनो चिलमन हो जाने दो दीदार दिख जाने दो एक झलक उस स्वर्णिम सजीले चाँद की दे दूं मैं...

अटल रहे सुहाग : सास -बहू और चलनी : लघुकथा : संजय वर्मा

                        करवाचौथ के दिन पत्नी सज धज के पति का इंतजार कर रही...

अटल रहे सुहाग : मैं आ रहा हूँ…..डॉ भारती वर्मा बौड़ाई

       मैं सदा उन अंकल-आंटी को साथ-साथ देखा करती थी। सब्जी लानी हो, डॉक्टर के पास जाना हो, पोस्टऑफिस, बैंक, बाज़ार जाना हो या...

कूड़ा गाड़ी

एक बार की बात है एक यात्री ने एयरपोर्ट जाने के लिए टैक्सी की | रात का समय था टैक्सी वाला बड़े इत्मीनान से...

खेल के नियम

खेल के नियम पहले से जान लें तभी आप दूसरों से बेहतर खेल सकते हैं 

अनुशासन से सफलता

अनुशासन लक्ष्य के प्रारंभ व् अंत के पुल का मध्य बिंदु है 

अटल रहे सुहाग : ,किरण सिंह की कवितायें

                      करवाचौथ पर विशेष " अटल रहे सुहाग " में  आइये आज पढ़ते हैं...

अटल रहे सुहाग : चौथी कड़ी : कहानी—” सरप्राइज “

रिया,,,, ओ,,, रिया,,,,,, बेटा सारा सामान रख लिया न पूजा का, बेटा सब इकट्ठा करो एक जगह ,,,,, थाली में, ,, तुमको जाना है न...

MOST POPULAR

HOT NEWS