Sunday, February 23, 2020
Home 2017 February

Monthly Archives: February 2017

बुराई

अगर आप चार लोगों के साथ मिलकर मजे ले ले कर किसी की बुराई करते हैं तो यकीन मानिए आपके जाने के बाद वो लोग आपकी भी बुराई करेंगे 

रोज डे – गुलाब पर 21 सुविचार

                             गुलाब जो प्रेम का प्रतीक माना जाता है वो किसे...

नयी सुबह

साधना सिंह    गोरखपुर दिन भर मेहमानों की आवाजाही , ऊपर से रात से तबीयत खराब थी भारती की..  फिर भी कोई कोताही नही बरती खातिरदारी...

विश्व कैंसर दिवस-ैंआवश्यकता है कैंसर के खिलाफ इस युद्ध में साथ खड़े होने...

आज विश्व कैंसर दिवस है | आज मेडिकल साइंस के इतने विकास के बाद भी कैंसर एक ऐसे बिमारी है | जिसका नाम भी...

प्रत्येक क्षण में बहुत कुछ नया है!

- प्रदीप कुमार सिंह ‘पाल’, शैक्षिक एवं वैश्विक चिन्तक             यदि हमारे अंदर पुराने का आग्रह है तो जीवन में सब पुराना हो जाएगा। जीवन मंे यदि...

नन्हे कदम

कुछ सार्थक हासिल करने से पहले आपको बहुत  छोटे - छोटे प्रयास करने होते हैं जिसको न कोई देखता है और न सराहना करता है

स्वागत है ऋतुराज

                     वसंत ऋतू की शोभा अनुपम है .. इसी लिए इसे ऋतुराज भी कहा जाता...

मृत्यु संसार से अपने ‘असली वतन’ जाने की वापिसी यात्रा है!

(जब जन्म शुभ है तो मृत्यु अशुभ कैसे हो सकती है?) - डा0 जगदीश गांधी, संस्थापक-प्रबन्धक,  सिटी मोन्टेसरी स्कूल, लखनऊ (1) जीवन-मृत्यु के पीछे परमपिता परमात्मा का महान उद्देश्य...

आधुनिकता के इस दौर में संस्कृति सेसमझौता क्यों

लेखक :- पंकज प्रखर आज एक बच्चे से लेकर 80 वर्ष का बुज़ुर्ग आधुनिकता की अंधी दौध में लगा हुआ है आज हम पश्चिमी हवाओं के झंझावत...

MOST POPULAR

HOT NEWS

error: Content is protected !!