सांता का गिफ्ट

0
113
सांता का गिफ्ट
क्रिसमस से संता का करिश्मा भी जुड़ा है | दुनिया भर के बच्चे क्रिसमस के दिन संता का इंतज़ार करते हैं | सफ़ेद दाढ़ी वाला ये दयालु आदमी स्लेज से आकर चुपके से लोगों के घरों में गिफ्ट छोड़ जाएगा | क्या क्रिसमस से एक रात पहले संता क्लाज गिफ्ट देते हैं और अगर देते हैं तो वो क्या है ?

सांता का गिफ्ट 

सुबह -सुबह जब बच्चे

चमकती आँखों के साथ

गले लग कर कहते हैं
 ‘मेरी क्रिसमस “
तो मुझे याद आ जाती है
उनकी बचपन की वो क्रिसमस
जब दिसंबर की सर्द रातों में
वो बेसब्री से किया करते थे सांता का इंतज़ार
जो आधी रात को आएगा
अपनी स्लेज में बैठकर
और चुपके से
खिड़की से डाल देगा
उनकी पसंद का कोई उपहार
चॉकलेट, पेंसिल, केक या उनके पसंद की कोई किताब
कितनी सर्द रातों में
उनींदी पलकों के कोरों झप जाने से रोकने की
की थी असफल कोशिश
नींद के आगोश में जाने से पहले
नहीं बंद करने दी थी खिड़की
भले ही ठिठुरते रहे  सब
पर सांता को खिड़की नहीं मिलनी चाहिए बंद
सांता यानी चमत्कार
मनचाही मुराद पूरी होने का द्वार
उम्र के जाने किस पायदान पर
जब नहीं झपकने लगीं थी
उनकी पलकें
वो कर सकते थे इंतज़ार
१२, १, २ बजे तक भी
फिर भी खिड़की रहने लगी थी बंद
ऐसा नहीं कि अब उन्हें संता पर विश्वास नहीं रहा
या क्रिसमस  पर ख़ुशी का अहसास नहीं रहा
हर क्रिसमस पर
सुबह -सुबह उनकी चमकती आँखें
देती हैं गवाही
कि कल रात भी आया था सांता
लम्बी सफ़ेद दाढ़ी के साथ
अपनी स्लेज पर सवार हो कर
और फिर  से दे गया है वही उपहार
जो है चॉकलेट, खिलौनों और कपड़ों से भी कीमती
जिसको लेने के लिए
नहीं है जरूरत खिड़की खुली रखने की
जरूरत है बस समझने की
कि मनचाही मुराद पाने के लिए
जरूरी है नींदों की कुरबानी
कि जागती आँखों के कोरों को
मेहनत की दिशा में झोंक देने से ही
पूरा होता है मुरादों का सफ़र
मुरादों के पूरा होने का सफ़र
वंदना बाजपेयी
यह भी पढ़ें …
आपको  कविता  सांता का गिफ्ट     कैसी लगी   | अपनी राय अवश्य व्यक्त करें | हमारा फेसबुक पेज लाइक करें | अगर आपको “अटूट बंधन “ की रचनाएँ पसंद आती हैं तो कृपया हमारा  फ्री इ मेल लैटर सबस्क्राइब कराये ताकि हम “अटूट बंधन”की लेटेस्ट  पोस्ट सीधे आपके इ मेल पर भेज सकें | 
keywords; CHIRTMAS, CHRISTMAS TREE, SANTA CLAUS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here