जिंदगी का सबक

0
120
जिंदगी का सबक

जो सबक हमें जिंदगी सिखाती है
वो किताबों में नहीं मिलता
क्योंकि
जिंदगी के सबकों के आधार पर किताबें लिखी जाती हैं
न कि किताबों के आधार पर जिन्दगी चलती है 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here