सुविचार – मुक्ति

0
75
सुविचार मुक्ति

संसार में लाखों आदमी हैं
पर उनकी चिंता नहीं होती
केवल अपनों की चिंता होती है
यानी ९० %मुक्ति
तो होहोई गयी है

आध्यात्म की दिशा में जाकर
बस
बाकी १० % का
प्रयास करना है 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here