भाई दूज : भाई बहन पर 15 अनमोल विचार

2
136

  • भाई – बहन का रिश्ता एक अटूट बंधन है | जो उन दोनों के अलग – अलग परिवारों में रहने बाद भी अटूट ही बना रहता है | 
  • भाई जो बचपन में बहन से लड़ते हैं वो बड़े होकर बहनों के लिए लड़ते हैं |
  • बड़े होने पर बहनों को ससुराल में जिसका सबसे ज्यादा इंतज़ार रहता है , वो है भाई का | 
  • आप सारी  दुनिया को मुर्ख बना सकते हैं पर अपनी बहन को नहीं |

  •  दुनिया में कोई प्यार ऐसा नहीं है जैसा भाई के प्रति  प्यार है , दुनिया में कोई प्यार ऐसा नहीं है जैसा भाई का प्यार है|
  •  दोस्त आते और जाते हैं पर भाई -बहन सदा के लिए हैं

ये जरूर्री नहीं की भाई बहन का रिश्ता हमेशा खून का ही हो | कई बार मानद या दिल से माने हुए भाई बहन के रिश्ते भी बन जाते हैं | इनमें रिश्ते को निभाने का कोई दवाब नहीं होता | फिर भी ये बेहद आत्मीयता से भरे होते हैं | क्योंकि ये दिल से जुड़े होते हैं |- अटूट बंधन 

  • कोई भी भाई अपनी बहन की साऋ समस्याएं तो दूर नहीं कर सकता पर वो उसकी हर समस्या में जूझने में उसका साथ जरूर देता है |
  • जब दो भाई – बहन काढ़े से कन्धा मिलकर चलते हैं तो किसकी इतनी हिम्मत है की वो उनके कंधे से टकरा सके | 
  • भले ही भाई – बहन साथ न रहे वो एक दूसरे की स्मृतियों में सदा रहते हैं | 
  •  केवल एक भाई एक पिता की तरह प्यार कर सकता है , बहन  की तरह चिढ़ा सकता हें , माँ की तरह देखभाल कर सकता है और दोस्त की तरह साथ दे सकता है |

  •  भाई -बहन का रिश्ता वो रिश्ता है जो दूर होने पर भी दिल के तारों से बंधा रहता है |
  •  भाई बहन सदा उतने ही करीब रहते हैं जितना हाँथ और पाँव | 

  • भाई -बहन वो बचपन है जो कभी जाता नहीं है  | 
  •  ये बहनों का काम है की वो भाई को चिढाये , भले ही वो कितना बड़ा हो गया हो | 

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here